Wednesday, March 10, 2010

अबु आजमी ने कितने आतंकवादियों को बचाया? शहजाद, जुनैद… या कुछ और भी हैं?

अभी-अभी टीवी पर खुलासा हो रहा है कि मुम्बई के सपा नेता अबु आजमी बाटला हाउस के आतंकी शहजाद और जुनैद से मिला और उन्हें पैसा दिया कि वो छुप के रहें. चौरसिया और अजमानी मिलकर अबु आजमी से फोन पर बात कर रहे हैं, और कम से कम पहली बार चौरसिया के मुंह से कठिन सवाल सुनने को मिल रहे हैं

1. अबु आजमी दाउद की महफिल में शामिल रह चुका है.
2. अबु आजमी 1993 के विस्फोट के मामले में गिरफ्तार होकर जेल में रह चुका है.
3. अबु आजमी बार-बार आतंकवादी मामलों में संदिग्ध रहा है.
4. अबु आजमी ने खुद स्वीकार किया की शहजाद के बाप से उसके संबंध रहे और शहजाद का बाप उसके यहां आता जाता रहता है.

abuazmideshdrohi

बाटला हाउस में शहीद इंस्पेक्टर मोहन चंद्र शर्मा के कातिलों में शामिल शहजाद को पैसे दिये और छुपने में मदद की... ठीक है.

लेकिन अभी-अभी मुझे याद आ रहा है कि मुंबई में ताज पर हमले में अबु आजमी गोलियों और हमलों के बीच में घुस कर कार लेकर आता है, और दो-तीन लोगों को बचाकर ले जाता है. बाद में बयान देता है कि वो सऊदी अरब के कुछ सम्माननीय लोग थे.

शहजाद का तो पता चला.. लेकिन अबु आजमी, कौन थे वो लोग जिन्हें तूने ताज होटल से निकाला था.

चौरसिया ने अभी अभी अबु आजमी से कहा
"आप इतने भोले भी नहीं है अबु आजमी की दाउद के घर में शादी में शामिल हों और आपका पता नहीं हो किसके घर में हैं"

अबु आजमी कह रहा है कि मैं भोला हूं... बिल्कुल भोला हूं.

"मैं मुसलमान हूं, मैं भगवान की नहीं अल्ला की कसम खा कर कहता हूं कि मैंने शहजाद को पैसे नहीं दिये और मैं उससे मिला भी नहीं हूं."

चौरसिया, क्या इस सवाल का जवाब निकलवा सकते हो कि इसने ताज होटल में किसको बचाया था.. कहीं कुछ और आतंकवादियों को तो नहीं निकाल ले गया? पुरानी फुटेज होगी न तुम्हारे पास?

लंदन भाग गया है अबु आजमी 5 तारीख को. ठीक उसी दिन जिस दिन दिल्ली पुलिस ने उससे पूछताछ की.

मनसे वालों तुमने हिंदी के नाम पर इसको झापड़ लगाया, क्या इस बात के लिये खुदा कसम इसको एक जबर्दस्त नहीं लगाना चाहिये?

और इधर कांग्रेस का एक पूर्व विधायक कांग्रेस की सरकार में हुये दिल्ली के बाटला हाउस एनकाउंटर जिसमें एक बहादुर पुलिस इंस्पेक्टर शहीद हुआ के बारे में कह रहा है कि ‘सारी दुनिया जानती है कि बाटला एनकाउंटर झूठ था’…

इस अब्दुस सलाम को लाफा कौन लगायेगा?

11 comments:

  1. अबू आजमी जैसे लोग इस देश पर एक कलंक है, मुसलमानों के नाम पर कलंक हैं, इन पर मकोका लगा कर सलाखों के पीछे भेजना चाहिये

    ReplyDelete
  2. एक पूर्व विधायक कांग्रेस की सरकार में हुये दिल्ली के बाटला हाउस एनकाउंटर जिसमें एक बहादुर पुलिस इंस्पेक्टर शहीद हुआ के बारे में कह रहा है कि ‘सारी दुनिया जानती है कि बाटला एनकाउंटर झूठ था’…nice

    ReplyDelete
  3. भारतीय नागरिकMarch 10, 2010 at 7:04 PM

    यह तो पहले से ही संदेहास्पद है.. लेकिन हमारे धर्मनिरपेक्ष भाई अपने मुंह में दही जमाकर बैठ जाते हैं... अभी किसी हिन्दू का नाम इसकी जगह आया होता तो पूरे चैनल वाले भगवा-भगवा कर चिल्लाने लगते...
    असलम खान साहब से सहमत...

    ReplyDelete
  4. आपने कहा चुप रहो, हम चुप है!

    ReplyDelete
  5. BAHUT ACCHA LEKIN WO PURAV VIDHYAK(MLA) KAUN HAI , YE BHI TO BATAIEN.

    ReplyDelete
  6. आज की सच्चाई यही है कि खुद को सैकुलर कहने वाला गिरोह आतंकवादियों का गिरोह है देश में लगभग सबकेसब हमले इसी गिरोह द्वारा करववाए जा रहे हैं आपके द्वारा दिया यह समाचार इसी बात का एक और प्रमाण है।

    ReplyDelete
  7. उसने भी काफी कमा लिया था, नंबर एक और दो से, नमकहरामी कब करता ?

    ReplyDelete
  8. अभी अभी जयपुर बम विस्फोट के आरोपी आतंकवादी को पकङा गया है ....उसने भी बाटला हाऊस मैं रुकने की पुष्टि की है

    ReplyDelete
  9. अबू आज़मी के बारे में पहले से ही पता था कि यह गद्दार है, लेकिन कांग्रेस की तो आदत रही है गद्दारों को पालने की…. समाजवादी पार्टी, राजद और बसपा भी कांग्रेस को मात देने के लिये मुख्त्तार अंसारी और शहाबुद्दीन, तस्लीमुद्दीन आदि को पाल कर रखते हैं…। अब देखियेगा सारे सेकुलर, वामपंथी, मानवाधिकारवादी सब मुंह में दही जमाकर बैठ जायेंगे…। ताज होटल के समय भी आज़मी ने यह देशद्रोह किया था, कमीना है यह आदमी, "हुसैन का भाई"… (बराक हुसैन का भी और एमएफ़ हुसैन का भी) :)

    ReplyDelete
  10. भैया नक्कार खाने मे ज़बरदस्त तूती बजाई आप ने, हम सब सुनेंगे फ़िर कहेंगें और करेंगें कुछ भी नही…

    तो भैया करने वाले तो बस पाकिस्तान से आते ही रहेन्गे सदा के लिये !

    पता नही भारतीय कब अपने हितो के लिये जाग्रित होगा, भैया मुझे तो लगता है युही सब रहा तो देश खन्ड खन्ड बट जायेगा और हम नम्बर वन होंगें मगर पीछे से???

    ReplyDelete
  11. अबू आजमी के बारे मे स्टार न्यूज पर 11 मार्च के बारे मे जो दिखाया गया वो बिल्कुल सही है, ये वही आजमी है जो दाउद इब्राहिम की पार्टी मे शामिल हुआ करता था. अबू आजमी के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा चलाना चाहिए. ऐसे किसी भी लोगो को विधायक होने की आड़ मे छोड़ा जाना चाहिए.......कठोरतम कार्यवाई की जानी चाहिए..

    ReplyDelete

इस लेख पर अपनी प्रतिक्रिया जरूर दें.